सरकारी टीचर (Government Teacher) कैसे बने – पूरी जानकारी हिंदी में

Share:

Sarkari Teacher Kaise Bane in Hindi : क्या आप भी सरकार अध्यापक (Government Teacher) बनना चाहते हैं? आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि सरकारी टीचर कैसे बनें? या Sarkari Teacher Banne ke liye kya kare in Hindi.


दोस्तों हमारे समाज में टीचर का दर्जा सबसे ऊंचा होता है। एक टीचर होना, अपने आप में गर्व की बात होती है और इस गर्व का अनुभव करना बहुत लोगों का सपना होता है। अगर आप भी एक टीचर बनकर देश के बच्चों का मार्गदर्शन करना चाहते हैं? तो आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना चाहिए, जिसमें हम आपको बताएंगे कि Govt Teacher कैसे बनें? या सरकारी टीचर बनने के लिए क्या करें?


Sarkari Teacher Kaise Bane in Hindi

अध्यापक के लिए बच्चों को सही तरीके से पढ़ाना ही उनका पहला कर्तव्य होता है। आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको Teacher Banne Ke Liye Kya Kare, टीचर बनने के लिए कोर्स या Degree, Exam Details, Salary, Teacher Banne Ke Liye Age Limit और योग्यता क्या है ये सभी जानकारी विस्तार से बताएंगे। पूरी जानकारी जानने के लिए इस पोस्ट को शुरू से अंत तक जरुर पढ़ें।


टीचर कैसे बनें | Teacher Kaise Bane in Hindi


अगर आप एक शिक्षक बनना चाहते हैं तो उसके लिए आपको स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस फॉलो करना होगा।  शुरू से लेकर मेहनत करने पर आप आसानी के साथ टीचर बन सकते हैं। अगर आप भी टीचर बनना चाहते हैं तो आपको नीचे बताए प्रोसेस को फॉलो करना होगा–


1. सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करें


सरकारी टीचर बनने के लिए आपको 10th के बाद 12th कक्षा पास करनी होगी। आपकी जिस भी विषय में ज्यादा रूचि है और जिस विषय को पढना आपको ज्यादा पसंद हो, आप 12th में वहीं विषय चुनें जैसे- मैथ्स, साइंस या अन्य कोई विषय और उस सब्जेक्ट को ही स्ट्रोंग बनाएं।


2. पसंदीदा विषय पर पूरी पकड़ बनाएं


आप जिस विषय के टीचर बनना चाहते हैं, उसके लिए आपको उस विषय पर पूरी पकड़ बनानी होगी। मतलब आपको अपने पसंदीदा विषय पर विशेष ध्यान देना होगा। आप उसे विषय के बारे में सम्पूर्ण ज्ञान अर्जित करें, ताकि आप विद्यार्थियों द्वारा पूछे गए किसी भी प्रश्न का सटीक जवाब दे सकें।


3. ग्रेजुएशन पूरा करें


टीचर बनने के लिए आपको ग्रेजुएशन करना अनिवार्य है, तभी आप टीचर बन सकते हैं। ग्रेजुएशन में अपने इंटरेस्ट का सब्जेक्ट ही चुनें और उसमें खुद को स्ट्रोंग बनाएं। यह आपकी टीचर बनने के लिए आगे आने वाली पढाई में मदद करेगा।


3. B.Ed कोर्स के लिए अप्लाई करें


ग्रेजुएशन कम्पलीट कर लेने के बाद अब आप B.Ed (Bachler of Education) के लिए अप्लाई कर सकते हैं। परंतु आपको बता दें कि अगर आपके ग्रेजुएशन में 50% अंक होंगे तो ही आप B.Ed के लिए Apply कर सकते हैं। इस कोर्स कि अवधि 2 वर्ष की होती है, इसे कर लेने के बाद आप किसी भी स्कूल में टीचर के तौर पर पढ़ा सकते है।


5. CTET या TET एग्जाम पास करें


सरकारी टीचर या केंद्रीय विद्यालयों के टीचर बनने के लिए आपको B.Ed कर लेने के बाद CTET या TET Exam क्लियर करना होता है। अगर आप इसे क्लियर कर लेते हैं, इसके बाद एक मेरिट लिस्ट तैयार होती है, जितने अच्छे आपके मार्क्स होंगे उतनी अच्छी पोस्ट और गवर्नमेंट स्कूल आपको मिलेगा, तो ऐसे आप सरकारी टीचर बन सकते है।


अब आपने Government Teacher Kaise Bane in Hindi ये तो जान लिया है, अब आगे ज्ञान को बढ़ाते हुए जानते हैं कि टीचर कितने प्रकार के होते हैं और टीचर बनने के लिए महत्वपूर्ण टिप्स क्या होता है।


सरकारी टीचर बनने के लिए जरूरी टिप्स 


● टीचर बनने के लिए सबसे पहले आपको 12वीं कक्षा किसी भी स्ट्रीम से पूरी करनी होगी।

● इसके बाद एक शिक्षक बनने के लिए पहले आपको स्वयं का शिक्षण ठीक तरह से पूर्ण करना होगा।

● आपकी जिस विषय में ज्यादा रूचि हो, उस विषय पर ज्यादा ध्यान दें, क्योंकि जब आप पूर्ण रूप से शिक्षित होंगे तभी आप विद्यार्थियों को अच्छे से शिक्षित कर पाएंगे।

● एक टीचर को कार्य उसकी योग्यता अनुसार सौंपा जाता है और योग्यता के आधार पर ही उसका वेतन निश्चित होता है।

● टीचर बनने के लिए आपको पहले टीचिंग लेवल का चुनाव करना होगा, मतलब आप कौन सी क्लास के बच्चों को पढ़ाना चाहते है। उसी के आधार पर आप उचित कोर्स करके टीचर बन सकते है।


टीचर कितने प्रकार के होते हैं? | Types of Teachers


Teacher Kaise Bane in Hindi जानने के बाद अब बात करते हैं कि टीचर कितने प्रकार के होते हैं। Teacher (शिक्षक) को तीन भागों में बांटा गया है। अलग-अलग कक्षाओं के आधार पर टीचर को बांटा गया है। उसके लिए नीचे लिखे तीन प्रकार के टीचर होते हैं....


◆ Primary Teacher (PGT) : सबसे पहले आते हैं प्राइमरी टीचर, जिसे PGT भी कहा जाता है। ये टीचर पहली कक्षा से पांचवीं कक्षा तक के बच्चों को पढ़ाते हैं। 

◆ Secondary or Trained Graduate Teacher (TGT) : प्राइमरी टीचर के बाद दूसरे नंबर पर सेकेंडरी ग्रेजुएट टीचर आते हैं, जो छठी कक्षा से दसवीं कक्षा तक के बच्चों को पढ़ाते हैं।

◆ Post Graduate Teacher (PGT) : इनके बाद तीसरे नंबर पर आते हैं पोस्ट ग्रजुएट टीचर, जो दसवीं और बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को पढ़ाते हैं। इन्हें हम लेक्चरर भी कहते हैं। 


दोस्तों इनके अलावा एक Pre-Primary टाइप के टीचर भी होते हैं। Primary टीचर बनने के लिए आपके पास कोई विशेष Degree होना ज़रूरी नही, यदि आप बारहवीं पास है और Basic Teaching Skills रखते है तो आप किसी प्राइवेट स्कूल के Pre-Primary टीचर बन सकते हैं।


Teacher Banne Ke Liye Konsa Subject Lena Chahiye यह इस बात पर निर्भर करता है कि सरकारी टीचर बनने के लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए। जो छात्र यह जानना चाहते है कि Government Teacher Banne Ke Liye Kya Kare तो इसके बारे में हमने नीचे आपको और विस्तार से बताया है।


टीचर बनने के लिए योग्यता | Teacher Banne Ke Liye Qualification


● सरकारी टीचर बनने के लिए 12वीं पास करें।

● 12th के बाद आप उस सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन करें, जिस सब्जेक्ट के आप टीचर बनना चाहते है। उदाहरण के तौर पर, यदि आप साइंस टीचर बनना चाहते है तो आपको साइंस सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन करना होगा , साथ ही आपके Graduation में कम से कम 50% होना अनिवार्य है।

● इसके बाद आपको CTET का एग्जाम देना होगा जिसमें दो पेपर होते हैं – पेपर-1 और पेपर-2 अगर आप कक्षा 1 से 5 तक विद्यार्थियों को पढ़ना चाहते हैं तो पेपर 1 और अगर सेकेंडरी क्लास के स्टूडेंट्स को पढ़ाना चाहते हैं, तो पेपर 2 देना होगा।

● अगर आप क्लास 1 से लेकर 10th के विद्यार्थियों को पढ़ाना चाहते हैं, तो आपको Paper 1 और Paper 2 दोनों ही देने होंगे।


टीचर बनने के लिए कौन सा कोर्स करें?


Teacher Banne Ke Liye Konsa Course Kare यह कई छात्रों का प्रश्न होता है, इसलिए टीचर बनने के लिए मुख्य कोर्स इस प्रकार है:


◆ B.Ed (Bachelor Of Education): यह कोर्स 2 साल का होता है और इस कोर्स को करने के लिए आपका ग्रैजुएट होना आवश्यक है। आप यह कोर्स Government या Private कॉलेज से भी कर सकते हैं। B.Ed कोर्स के बाद आप टीचिंग में अपना कैरियर बना सकते है।

◆ D.Ed (Diploma in Education): यह एक Diploma कोर्स है जो 2 वर्ष का होता है, और यह कोर्स स्कूल टीचर बनने के लिए किया जाता है। इस कोर्स को आप 12वीं के बाद, ग्रेजुएशन के साथ भी कर सकते है। D.El.Ed भी D.Ed के समान ही होता है, बस इनके नाम अलग है।



टीचर बनने के लिए होने वाली परीक्षा


सरकारी टीचर या केंद्रीय विद्यालयों के टीचर बनने के लिए होने वाली परीक्षाएं एवं उनकी योग्यता निम्नलिखित है:


1. TET (Teacher Eligibility Test) 


TET (Teacher Eligibility Test) यानी शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी), यह परीक्षा राज्य सरकार द्वारा आयोजित की जाती है। राज्य में सरकारी टीचर बनने के लिए आप TET परीक्षा दे सकते हैं। टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आप एक से आठवीं तक के बच्चों के टीचर बन जाते है।


टीईटी के लिए योग्यताएं: टीईटी परीक्षा देने के लिए आपका ग्रेजुएशन के साथ B.Ed होना आवश्यक है। शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए अधिकतम आयु 35 वर्ष होनी चाहिए।


2. CTET (Central Teacher Eligibility Test)


CTET, यानी केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा, यह परीक्षा भारत सरकार द्वारा आयोजित की जाती है। यह परीक्षा उन लोगों के लिए होती है जो केंद्रीय विद्यालयों के टीचर बनना चाहते है।


सीटीईटी के लिए योग्यताएं: सीटीईटी परीक्षा के लिए आपको ग्रेजुएशन के साथ-साथ B.Ed या दो साल का डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन (D.Ed/D.El.Ed) होना अनिवार्य होता है। Candidate भारत का नागरिक होना चाहिए और उसकी उम्र 18 वर्ष से ज्यादा होनी चाहिए।


टीचर की तन्ख्वाह कितनी होती है? | Teacher Ki Salary


प्राइवेट टीचर की सैलरी: प्राइवेट टीचर की सैलरी उसकी क्वालिफिकेशन पर निर्भर करती है। यदि आपके पास कोई विशेष सर्टिफिकेट है और आपने किसी विशेष सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन किया है, तो आपकी सैलरी ज्यादा हो सकती है।


सरकारी टीचर की सैलरी: सरकारी टीचर की सैलरी, प्राइवेट टीचर के मुकाबले ज्यादा होती है( एक सरकारी टीचर की सैलरी लगभग ₹23,000 से लेकर ₹1,20,000 तक हो सकती है।


टीचर बनने के फायदे


● दूसरी नौकरियों की तुलना में शिक्षकों को अधिक छुट्टी मिलती है।

● शिक्षक का वेतन भी अच्छा होता है।

● शिक्षक का पढ़ाने का समय भी फिक्स या निश्चित होता है, जिससे उनको अपने पर्सनल कार्यों के लिए भी अच्छा समय मिल जाता है।

● टीचर्स के पास देश को एक बेहतर कल देने का मौका होता है। वह बच्चों में शुरू से ही अच्छे संस्कार डाल सकते है जिससे हमारा देश और उसके युवा सही राह में प्रगति कर सकते है।

● एक प्रोफेशन के तौर पर टीचिंग बहुत ही संतोषजनक करियर होता है। इसमें आपको बच्चों की तरक्की में अपनी प्रोग्रेस या अपने प्रयासों के नतीजे दिखते है।

● टीचिंग एक बहुत ही इज्ज़तदार जॉब है।


सरकारी टीचर के लिए करियर के अवसर


एक बार जब आप टीचर की पोस्ट पर पदोस्त हो जाते है, उसके बाद आपके सामने कई सारे करियर अवसर के रास्ते खुल जाते है। एक टीचर की ग्रोथ उसके अनुभव, समय, परफॉरमेंस एवं स्किल्स के आधार पर पढ़ती जाती है। शिक्षकों को धीरे-धीरे पदोन्नत (Promote) करने के लिए कुछ पद आपको निचे दिए गए है...


◆ सीनियर टीचर

◆ असिस्टेंट टीचर

◆ हेडमास्टर

◆ प्रिंसिपल


अंतिम बात


इस पोस्ट को पूरा पढ़कर आप जान गए होंगे कि सरकारी टीचर कैसे बनें या Sarkari Teacher Kaise Ban sakte hai. हम इस पोस्ट में आपको टीचर बनने का पूरा प्रोसेस बता दिया है और आपको क्या-क्या करना होगा, पूरी जानकारी दे दी है।


उम्मीद करते हैं कि इसे पढ़कर आपके सभी सवालों के जवाब मिल गए होंगे। अगर फिर भी आपका कोई सवाल है तो आप हमें कॉमेंट करके पूछ सकते हैं। हम आपको सवालों का जरूर जवाब देंगे। 


अगर आपको ये जानकारी पसंद आए तो आप इसे सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करें ताकि इसे पढ़कर आपकी तरह कोई सरकारी टीचर बन सके। धन्यवाद 

No comments